BBC Live
टाप न्यूज मध्यप्रदेष/छत्तीसगढ़ मुख्य पृष्ठ स्लाईडर

दिल्ली की अब छत्तीसगढ़ से गुहार, बंदर पकड़ने वाले भेजिए, एक के बदले देंगे 2400 रुपए

दिल्ली नगर निगम बंदरों से परेशान है। कई इलाकों में बंदरों ने नाक में दम कर रखा है। हाल यह है कि बंदरों से आम आदमी से लेकर सांसद तक परेशान है। दिल्ली निगम ने इस समस्या से निजात पाने के लिए सभी राज्यों से मदद मांगी थी। लेकिन समस्या हल नहीं हुई। अब दिल्ली ने पीसीसीएफ वाइल्ड लाइफ पीवी नरसिंग राव को पत्र लिखकर बंदर पकड़ने मदद की गुहार लगाई है। दिल्ली सरकार बंदर पकड़ने वाले को प्रति बंदर 24 सौ रुपए का भुगतान करेगी।

खबर यह भी है कि दिल्ली में बंदर पकड़ने को लेकर स्थानीय प्रशासन तथा वन विभाग में आपस में ठन गई है। दिल्ली निगम प्रशासन बंदर पकड़ने पहले वन विभाग को पत्र लिखा। इसके जवाब में वन विभाग के अफसरों ने शहरी क्षेत्र में बंदर पकड़ने की जवाबदेही निगम की होने की बात कहते हुए बंदर पकड़ने से मना कर दिया। इसके बाद दिल्ली नगर निगम ने बंदर पकड़ने छत्तीसगढ़ वन विभाग को पत्र लिखा है। बंदरों का आतंक वर्तमान में दक्षिणी दिल्ली, उत्तरी दिल्ली और पूर्वी दिल्ली में है। साथ ही इनकी संख्या दिनों-दिन बढ़ती ही जा रही है। बंदरों के काटने से कई लोग गंभीर रूप से घायल भी हो चुके हैं।

रायगढ़ में भी दिल्ली की तर्ज पर रेट निर्धारण

रायगढ़ स्थित जिंदल स्टील प्लांट तथा कई औद्योगिक इलाकों के साथ रहवासी क्षेत्र में बंदरों का आतंक है। बंदरों पर नियंत्रण करने एपीसीसीएफ वाइल्ड लाइफ अरुण कुमार पाण्डेय ने रायगढ़ डीएफओ मनोज पाण्डेय को निर्देशित किया है कि वे भी दिल्ली की तर्ज पर बंदर पकड़ने वलों को लिए एक निश्चित राशि सुनिश्चित कर बंदरों को पकड़कर बधियाकरण करें।

बंदर पकड़ने पर मिलेगा पैसा

दिल्ली के लोगों को बंदर ने इतना परेशान कर दिया है कि बंदर पकड़ कर देने वाले को स्थानीय प्रशासन ने प्रति बंदर के हिसाब से 24 सौ रुपए देने के लिए राजी है। बंदर पकड़ने आने वाले लोगों के लिए स्थानीय प्रशासन रुकने तक का इंतजाम करेगा।

इसलिए छत्तीसगढ़ को चुना

छत्तीसगढ़ में भी बंदरों का काफी आतंक रहा है। बंदरों की संख्या पर लगाम लगाने वन विभाग ने बंदरों का बधियाकरण करने का अभियान चलाया। बंदरों को पकड़ कर बधियाकरण करने में छत्तीसगढ़ काफी हद तक सफल रहा है। इसी बात की जानकारी मिलने के बाद दिल्ली के स्थानीय प्रशासन ने राज्य के वन विभाग को पत्र लिखकर बंदर पकड़ने एक्सपर्ट कैचर देने की मांग की है।

पत्र आया है

दिल्ली नगर निगम का एक पत्र आया है, जिसमें एक्सपर्ट बंदर पकड़ने वाले लोगों की मांग की गई है। बंदर पकड़ने पर प्रति बंदर 2400 रुपए भुगतान देने की बात कहा है। रायगढ़ डीएफओ को क्षेत्र में बंदर का आतंक कम करने उपाय करने के निर्देश दिए गए हैं। जरूरत पड़ने पर वहां भी बंदर पकड़ने वाले के लिए राशि तय करने के लिए कहा गया है।

 

Related posts

BBC NEWS : बीजेपी महिला मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष की कार बाइक से टकराई, एक युवक का पैर टूटा, दो घायल

BBC Live

BBC LIVE NEWS : UP: महंत नरेन्द्र गिरि मामले में सीबीआई ने दाखिल की चार्जशीट,,, नरेन्द्र गिरि की मौत को माना आत्महत्या

BBC Live

कलेक्टर ने गोधन न्याय योजना की समीक्षा की, बेहतर क्रियान्वयन करने निर्देश..

BBC Live

एक टिप्पणी छोड़ें

Translate »
error: Content is protected !!