नई दिल्‍ली, पीटीआइ। PSU Coal India limited के कर्मचारियों की सैलरी में बढ़ोतरी होने वाली है। क्‍योंकि सरकार के स्वामित्व वाली कोल इंडिया लिमिटेड (सीआईएल) का मैनेजमेंट वेतन बढ़ोतरी (Coal India Salary hike) को लेकर इस महीने श्रमिक संगठनों के साथ बातचीत शुरू कर सकता है। हिंद मजदूर सभा (HMS) से जुड़े हिंद खदान मजदूर फेडरेशन के अध्यक्ष नाथुलाल पांडे ने कहा कि CIL प्रबंधन ने दो-तीन दिन पहले ट्रेड यूनियनों के साथ एक बैठक की थी।

Advertisement

बैठक में सार्वजनिक क्षेत्र उद्यम ने श्रमिक संगठनों को कोयला मंत्रालय से कोयला उद्योग के लिए वेतन से जुड़ी बातचीत को लेकर एक समिति के गठन की मंजूरी मिलने का जानकारी दी। कोयला उद्योग से जुड़ी समिति में कंपनी के प्रबंधन और केंद्रीय कर्मचारी संगठनों के प्रतिनिधि शामिल हैं।

कोल इंडिया के एक अधिकारी ने कहा कि कंपनी श्रमिक संगठनों के साथ बातचीत शुरू करने के लिए इस महीने एक संयुक्त द्विपक्षीय समिति का गठन शुरू करेगी। पांडे ने कहा कि समिति का जल्द ही गठन किया जा सकता है।

Advertisement

उन्होंने कहा कि श्रमिक संगठनों ने अपने मांगों की सूची बनाई है जिनमें 5 साल के लिए वेतन में 50 प्रतिशत की बढ़ोतरी भी शामिल है और ये मांगें जल्द ही सीआईएल को सौंपी जाएंगी। सीआईएल में हर 5 साल पर कर्मचारियों के वेतन में बदलाव होता है और इस बार यह बढ़ोतरी जुलाई 2021 के लिए तय है।

बता दें कि सार्वजनिक क्षेत्र की कोल इंडिया लिमिटेड (सीआईएल) के निदेशक मंडल ने 2020-21 के लिए 5 रुपये प्रति शेयर के दूसरे अंतरिम लाभांश के भुगतान को मंजूरी दी है। कंपनी ने बीएसई को बताया था कि वर्ष 2020-21 के लिए इक्विटी शेयरों पर दूसरे अंतरिम लाभांश के भुगतान के लिये 16 मार्च ‘रिकॉर्ड तिथि’ तय की गई है।

Advertisement

निदेशक मंडल ने बैठक में, 5 मार्च 2021 को कारोबारी साल 2020-21 के लिए दूसरे अंतरिम लाभांश के भुगतान को मंजूरी दे दी जो 10 रुपये के अंकित मूल्य वाले प्रत्येक शेयर के लिए पांच रुपये प्रति शेयर है।

घरेलू कोयले के उत्पादन में CIL की हिस्सेदारी 80 प्रतिशत से ज्‍यादा है। कंपनी का वर्ष 2023-24 तक कोयला उत्पादन के एक अरब टन तक ले जाने का लक्ष्य है।

Advertisement