BBC Live
SCIENCE & TECH टाप न्यूज दिल्ली/हरियाणा/एनसीआर लाइफस्टाइल स्लाईडर

दिल्ली के जीबी पंत हॉस्पिटल में बवाल:ड्यूटी को दौरान नर्सों के मलयालम बोलने पर रोक लगाई

नई दिल्ली
  • हॉस्पिटल की ओर एक सर्कुलर जारी किया गया था, जिसमें कहा गया था कि नर्सिंग स्टाफ सिर्फ हिंदी या अंग्रेजी में ही बात कर सकता है। (फाइल फोटो)

दिल्ली के गोविंद बल्लभ पंत इंस्टीट्यूट ऑफ पोस्ट ग्रेजुएट एजुकेशन एंड रिसर्च ने पहले नर्सिंग स्टाफ के मलयालम बोलने पर रोक लगाई। इसके बाद जब विरोध शुरू हुआ, तो 24 घंटे के अंदर ही उस सर्कुलर को वापस ले लिया। हॉस्पिटल प्रशासन ने सफाई दी कि उनकी जानकारी के बिना ही सर्कुलर जारी कर दिया गया था।

शनिवार को हॉस्पिटल की ओर एक सर्कुलर जारी किया गया था, जिसमें कहा गया था कि नर्सिंग स्टाफ सिर्फ हिंदी या अंग्रेजी में ही बात कर सकता है। अगर वो किसी दूसरी भाषा का इस्तेमाल करता है तो उनके खिलाफ कार्रवाई की जा सकती है।

Advertisement

इस वजह से जारी किया सर्कुलर
हॉस्पिटल प्रबंधन को कई बार ऐसी शिकायतें मिली थी कि नर्सिंग स्टाफ अपने राज्य और स्थानीय भाषा में बात करते हैं, इससे मरीजों को उनकी बात समझने में परेशानी होती है। जिसके बाद सर्कुलर जारी किया गया। इसमें कहा गया कि ऐसी शिकायतें मिली हैं कि ड्यूटी के दौरान मलयालम भाषा का इस्तेमाल किया जा रहा है। ज्यादातर मरीज इसे समझते नहीं है, जिसकी वजह से वहां असुविधा के हालात बनते हैं। इसलिए सभी नर्सिंग स्टाफ को निर्देश दिया गया कि बातचीत के लिए हिंदी और अंग्रेजी भाषा का ही प्रयोग करें, नहीं तो सख्त कार्रवाई की जाएगी।

राहुल-थरूर ने जताई आपत्ति
इस मामले पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी और शशि थरूर जैसे दिग्गजों ने आपत्ति जताई थी। उन्होंने सोशल मीडिया के जरिए कहा कि यह चौंकाने वाली बात है कि भारत जैसे लोकतांत्रिक देश में एक सरकारी संस्थान अपने नर्सिंग स्टाफ से कह सकता है कि वे उन लोगों से भी अपनी मातृभाषा में बात ना करें, जो उन्हें समझ सकते हैं। ये मंजूर करने वाली बात नहीं है।

Advertisement

Related posts

वसीम रिज़वी के खिलाफ उलमाए अहले सुन्नत भिवंडी की अहम मीटिंग हुई..

BBC Live

रायपुर : नारायणा हॉस्पिटल में डॉक्टरों की बड़ी लापरवाही, मौत के बाद भी 24 घंटों तक ICU में रखा युवक का शव

BBC Live

अनुपपुर वनमण्डल में करोणो का घोटाला-कैम्पा मद से फर्जी बाउचरो के जरिये हुआ घोटाला, पूर्व वनमण्डलाधिकारी भगतिया और एसडीओ गोस्वामी ने दिया अन्जाम।

BBC Live

एक टिप्पणी छोड़ें

Translate »