BBC Live
कृषि और पर्यावरण राजनीति व्यापार स्लाईडर

दिल्ली में पेट्रोल 95 रुपये के पार, छह राज्यों में दाम 100 रुपये प्रति लीटर से अधिक

देश में वाहन ईंधन की कीमतों में बीते चार मई से अब तक 20 बार बढ़ोतरी हो चुकी है. इससे देश के विभिन्न हिस्सों में अब पेट्रोल ऐतिहासिक उच्च स्तर पर पहुंच गया है. चार मई के बाद से पेट्रोल का दाम में 4.69 रुपये और डीजल के दाम 5.28 रुपये प्रति लीटर की बढ़ोतरी की गई है.

नई दिल्ली: वाहन ईधन की कीमतों में रविवार को एक और वृद्धि हुई. इससे राजधानी दिल्ली में पेट्रोल का दाम 95 रुपये प्रति लीटर के पार निकल गया. वहीं डीजल पहली बार 86 रुपये प्रति लीटर को पार कर गया.

Advertisement

सार्वजनिक क्षेत्र की पेट्रोलियम कंपनियों की मूल्य अधिसूचना के अनुसार पेट्रोल का दाम 21 पैसे प्रति लीटर और डीजल का 20 पैसे प्रति लीटर बढ़ाया गया है.

वाहन ईंधन कीमतों में चार मई से 20 बार बढ़ोतरी हुई है. इससे देश के विभिन्न हिस्सों में अब पेट्रोल ऐतिहासिक उच्च स्तर पर पहुंच गया है.

Advertisement

अभी छह राज्यों और संघ शासित प्रदेशों- राजस्थान, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना और लद्दाख में पेट्रोल 100 रुपये प्रति लीटर के पार पहुंच गया है.

दिल्ली में अब पेट्रोल 95.09 रुपये प्रति लीटर के अपने सर्वकालिक उच्च स्तर पर है. वहीं डीजल 86.01 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गया है.

Advertisement

स्थानीय करों मसलन मूल्य वर्धित कर (वैट) तथा ढुलाई भाड़े की वजह से विभिन्न राज्यों में ईंधन के दाम भिन्न-भिन्न होते हैं.

वाहन ईंधन की खुदरा कीमतें अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल के दाम बढ़ने की वजह से ऊपर जा रही हैं. निवेशकों को उम्मीद है कि बढ़ती मांग की वजह से बाजार ओपेक और उसके सहयोगियों के अतिरिक्त उत्पादन का उपयोग कर सकेगा.

Advertisement

ब्रेंट कच्चा तेल इस समय 72 डॉलर प्रति बैरल के पास पहुंच गया है. यह दो साल में पहली बार इस स्तर पर पहुंचा है.

देश में राजस्थान पेट्रोल और डीजल पर सबसे अधिक वैट लगाता है. उसके बाद मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश और तेलंगाना का नंबर आता है. मुंबई देश का पहला महानगर है, जहां 29 मई को पेट्रोल 100 रुपये प्रति लीटर के ऊपर पहुंचा था.

Advertisement

मुंबई में इस समय पेट्रोल 101.3 रुपये और डीजल 93.35 रुपये प्रति लीटर है.

इस साल चार मई के बाद पेट्रोल-डीजल के दाम में 20 बार वृद्धि हुई है. इस दौरान पेट्रोल का दाम 4.69 रुपये और डीजल का दाम 5.28 रुपये प्रति लीटर बढ़ा है. तेल कंपनियां अंतरराष्ट्रीय बाजार में पिछले 15 दिन के भावों के औसत के आधार पर रोजाना घरेलू बाजार में दाम तय करती हैं.

Advertisement

बीते एक जून को मुंबई में पेट्रोल की कीमत अब 100.47 रुपये (1.39 डॉलर) प्रति लीटर और डीजल 92.69 रुपये प्रति लीटर थी. पेट्रोल की यह कीमत यह कीमत अमेरिका के न्यूयॉर्क शहर की तुलना में करीब दोगुनी है. न्यूयॉर्क राज्य ऊर्जा अनुसंधान और विकास प्राधिकरण के आंकड़ों के आधार पर समाचार वेबसाइट ब्लूमबर्ग ने बताया था कि अमेरिका में पेट्रोल की कीमत 0.79 डॉलर है.

बता दें कि भारतीय ईंधन की कीमतें पिछले एक साल में काफी बढ़ गई हैं, क्योंकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रशासन ने सार्वजनिक वित्त को मजबूती प्रदान करने के लिए बार-बार बिक्री कर में बढ़ोतरी की है. कर अब खुदरा मूल्य का लगभग 60 प्रतिशत हो गए हैं और पेट्रोल तथा डीजल पर संघीय कर 2013 के बाद से लगभग छह गुना बढ़ गए हैं.

Advertisement

मालूम हो कि पेट्रोल और डीजल के दाम में एक्साइज ड्यूटी, डीलर कमीशन और अन्य चीजें जोड़ने के बाद इसका दाम लगभग दोगुना हो जाता है. इन्हीं मानकों के आधार पर पेट्रोल और डीजल के दाम रोज तय करने का काम तेल कंपनियां करती हैं.

Advertisement

Related posts

PM Modi Live Updates: पीएम मोदी ने राष्ट्र के नाम संबोधन में की 20 लाख करोड़ के आर्थिक पैकेज की घोषणा

BBC Live

छत्तीसगढ़ चैंबर ऑफ कॉमर्स चुनाव : 19 दिसंबर को खत्म हो रहा कार्यकाल, इसी माह बैठक

BBC Live

छत्तीसगढ़: 1 नवंबर से होगा शिक्षाकर्मियों का संविलियन

BBC Live

एक टिप्पणी छोड़ें

Translate »