6.5 C
New York
April 25, 2024
BBC LIVE
करप्शनराज्यराष्ट्रीय

डेली जॉब दर पर कार्य करने वाला कर्मचारी करोड़ो का मालिक?

  • बागबहारा वन परिक्षेत्र कार्यालय में पदस्थ प्रह्लाद क्षत्री अपने आप को समझते है परिक्षेत्र अधिकारी।

महासमुन्द/छत्तीसगढ़ में वनमंडल महासमुन्द के परिक्षेत्र कार्यालय बागबाहरा में पदस्थ जाबदर कर्मचारी प्रह्लाद क्षत्री पता नही कब और कैसे बागबाहरा परिक्षेत्र कार्यालय में आ गए और आते ही करोड़ो के मालिक बन गए । यह जाबदर कर्मचारी बागबाहरा परिक्षेत्र में वर्ष 2004 से काम कर रहा है । क्या विभाग के उच्च अधिकारियों ने कभी इनके बारे में कभी जानकारी नही मांगी कि ये जो प्रह्लाद क्षत्री है, किस जिले के रहने वाले है? दैनिक वेतन भोगी कर्मचारी लगाने के क्या नियम है? कभी वनमंडलाधिकारी ने इसकी जानकारी ली या वनमंडलाधिकारी अभी तक अनभिज्ञ है ? हम बताते है दैनिक वेतन भोगी सिर्फ क्षेत्रीय निवासी को कार्य मे रखने का होता है ,ना कि दूसरे जिले के व्यक्ति को कार्य देने का है । लेकिन महासमुन्द वनमंडल के वनपरिक्षेत्र कार्यलय बागबहारा में जॉबदर पर पदस्थ प्रह्लाद क्षत्री दूसरे जिले का निवासी है । यह महासमुन्द जिले का निवासी नही है फिर वन विभाग सारे नियम ताक कर दूसरे जिले के व्यक्ति से काम ले रहा है!वनविभाग महासमुन्द द्वारा बागबाहरा के स्थाई बेरोजगार युवाओं के साथ अन्याय कर रहा है , और पूर्व में स्थानीय बागबाहरा विधायक द्वारा प्रह्लाद क्षत्री को स्थानीय नही होने के कारण हटाने के लिए बोला गया था , लेकिन वनमंडलाधिकारी जी का पता नही ! क्या लगाव है प्रह्लाद क्षत्री से ? जो उसको नही हटाये और सूत्रों से मिली जानकारी से पता चला है कि प्रह्लाद क्षत्री कई उच्च अधिकारियों के नुमायने है इनको एक सेवानिवृत्त अधिकारी टी.आर.वर्मा बिलासपुर जिले से लेकर आये थे । उनके जाने के बाद एक बहुत बड़े उपवनमंडलाधिकारी जो अपने आप को P.C.C.F. से कम नही समझते है ,इनके शागिर्द बनकर रहे और उनके सब काले पीले कामो को सफेद करते रहे ! अब उन साहब के जाने के बाद अपने आप को ही वनपरिक्षेत्र अधिकारी समझते है। अगर वनमंडल अधिकारी नियम विरुद्ध ऐसे कर्मचारी को रखते है तो बागबाहरा विकासखण्ड का हर युवा आपसे पूछना चाहेगा कि क्या हम शिक्षित होकर गलती कर दिए है ? जो दूसरे जिले के व्यक्ति को नौकरी देकर बैठे है।ऐसा क्या है प्रह्लाद क्षत्री से जो वनमंडल अधिकारी उसको उस परिक्षेत्र में वर्षो से बैठा कर रखे है प्रह्लाद क्षत्री जाबदर पर होने के वाबजूद करोड़ो की संपत्ति बनाने के बाद चार पहिया गाड़ी मेंटेन करते है । यहाँ रेगुलर बीट गार्ड बाइक के लिए सोचता है कि कैसे मेंटेन करूंगा ? प्रह्लाद क्षत्री की जांच करनी चाहिए उनकी संपत्ति के साथ उनकी भर्ती प्रकिया की।

मामले की गम्भीरता को देखते हुए जांच की मांग की गई है।

Related posts

Aaj Ka Panchang : आज बन रहे हैं अद्भुत संयोग, इन शुभ मुहूर्तों में करें पूजा-अर्चना, होगा महालाभ

bbc_live

कलेक्टर सुश्री नम्रता गांधी की पहल पर पुनः प्रारंभ होगा किसान बाजार…अधिकारियों द्वारा वस्तुस्थिति का किया गया मुआयना

bbc_live

तेजी से बेकार कानून बनता जा रहा है आरटीआई एक्ट…राज्यों की दुर्दशा देख भड़का सुप्रीम कोर्ट

bbc_live

Leave a Comment

error: Content is protected !!