16.2 C
New York
May 30, 2024
BBC LIVE
राज्य

वन विभाग जारी किया खंडन : 40 नहीं 25 लाख रुपए वन भैसों के लिए किया गया आवंटन, वन भैसों पर कुल खर्च की नहीं दी जानकारी

रायपुर। वन भैसों पर बारनवापारा में खर्च किए जा रहे 40 लाख रूपए के संबंध में वन विभाग ने खंडन पत्र जारी किया है। विभाग की ओर से 12 मई को कहा गया था कि वर्ष 2023-24 में वन भैसों के लिए 40 लाख रुपए का आवंटन किया गया था। लेकिन अब छीछालेदर होने पर वन विभाग ने यूटर्न मारते हुए कहा गया 40 लाख नहीं बल्कि भैसों के लिए 25 लाख का बजट आवंटन किया गया।

बता दें कि, रायपुर के वन्य जीव प्रेमी नितिन सिंघवी ने इस मामले में खुलासा किया था। RTI द्वारा ली गई जानकारी से पता चला था कि, कार्यालय फील्ड डायरेक्टर उदंती सीता नदी टाइगर रिजर्व द्वारा 40 लाख रुपए वनमंडलाधिकारी बलोदा बाज़ार को आवंटन के दस्तावेज उपलब्ध कराए गए हैं। जो कि यहां अवलोकन के लिए उपलब्ध कराए गए हैं। खर्च की जानकारी मांगने पर मुख्यालय ने और फील्ड डायरेक्टर कार्यालय ने यह कहकर जानकारी नहीं दी कि हमारे पास जानकारी नहीं है। बजट आबंटन की यह जानकारी विभाग द्वारा नहीं दी जा रही थी, RTI के तहत प्रथम अपील दायर करने के बाद जानकारी उपलब्ध कराई गई।

गौरतलब है कि वन विभाग ने पानी पर किए गए रुपए चार लाख 4.60 लाख के खर्चे को स्वीकार किया गया है। इसके अलावा विभाग ने इस बात का भी खंडन नहीं किया है कि वन भैंसे की वंश वृद्धि का प्लान फेल हो गया है।

इसके अलावा रविवार को उपलब्ध कराए गए अन्य किसी भी आंकड़ो का भी विभाग ने खंडन नहीं किया है। गौरतलब है कि, असम से लाये गए वन भैसों के लिए कुल कितने करोड़ खर्चा हुआ है इसकी जानकारी नहीं दी गई।

Related posts

छत्तीसगढ़ में इस सिपाही के इस्तीफे की चर्चा, अब करेंगे जनसेवा

bbc_live

इलाके में दहशत : नक्सलियों का तांडव,चार ट्रकों को किया आग के हवाले

bbc_live

Breaking : किसान कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष ने दिया इस्तीफा, लगाया गंभीर आरोप…

bbc_live

Leave a Comment

error: Content is protected !!