26.9 C
New York
May 26, 2024
BBC LIVE
राज्य

धीरेन्द्र शास्त्री ने दिया बड़ा बयान…छत्तीसगढ़ में अब नहीं होगा धर्मांतरण

रायपुर। बागेश्वर धाम के पीठाधीश्वर पंडित धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री आज राजधानी रायपुर पहुंचे। वह गुढ़ियारी में हनुमंत कथा करेंगे। उनके रायपुर पहुंचे पर भक्तों ने उनका जोरदार स्वागत किया। एयरपोर्ट (raipur airport)  में पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने धर्मांतरण को लेकर बड़ा बयान दिया। धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री (Dhirendra Krishna Shastri Raipur) ने कहा कि, अब छत्तीसगढ़ में कोई भी धर्मान्तरण नहीं होगा। बागेश्वर पीठ (bageshwar dhaam)  हनुमान जी के आशीर्वाद से यहाँ हो रहे धर्मपरिवर्तन को रोकेगी,साथ ही धर्मपरिवर्तन कर चुके परिवारों की घर वापसी भी कराई जाएगी। उन्होंने आगे कहा कीं छत्तीसगढ़ उनका ननिहाल है, अब वह यहाँ कन्वर्जन नहीं होने देंगे।

राम मंदिर निर्माण से नई ऊर्जा का संचार

वही राम मंदिर (ram mandir) की प्राण प्रतिष्ठा पर कहा कि, कल सूर्यवंशी प्रभु श्रीराम अपने भव्य मंदिर में विराजमान हुए। इससे देश में एक नई ऊर्जा का संचार हुआ है। भारत अब अखंडता की ओर बढ़ रहा है। कल सनातनियों ने त्रेता युग प्रारम्भ किया। अब द्वापर युग की तैयारी है।

प्रदेश के मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय को लेकर दिया बड़ा बयान

रायपुर पहुंचे पंडित धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री (Dhirendra Krishna Shastri Raipur) ने मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय को लेकर बड़ा बयान दिया। उन्होंने कहा कि, छत्तीसगढ़ के सीएम (vishnudev saay) बहुत ही प्यारे है। वह जमीन से जुड़े हुए व्यक्ति है। वे प्रदेश के हित में अच्छा कार्य कर रहे है।

आपको बता दें कि, बागेश्वर सरकार (bageshwar sarkaar) की यह कथा रायपुर के विवेकानंद विद्यापीठ के सामने, कोटा रोड, गुढ़ियारी में आयोजित की जा रही है। इस कथा में में सैकड़ों परिवारों का घर वापसी, भारतीय सैनिकों का सम्मान किया जायेगा। साथ ही पं धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री की उपस्थिति में गरीब कन्याओं का विवाह भी हिन्दू रीति-रिवाज वैदिक परंपरा अनुसार होगा। हनुमंत कथा 27 जनवरी तक चलेगी।

बागेश्वर सरकार( bageshwar sarkaar) के रायपुर पहुंचने पर कथा के आयोजक व समाजसेवी बसंत अग्रवाल ने बताया कि, सनातन धर्मध्वजा वाहक धीरेंद्र शास्त्री का छत्तीसगढ़ में आगमन हम सभी के लिए एक आनंद का क्षण है। उनकी आध्यात्मिक वाणी से हमे 5 दिनों तक मार्गदर्शन मिलेगा और आंनद और शांति की परम अनुभूति प्राप्त होगी। इस समर्थ प्रवचनकार का स्वागत हमारी छत्तीसगढ़ संस्कृति को और भी प्रगाढ़ करेगा। छत्तीसगढ़ उनके आगमन का हृदयपूर्वक स्वागत करता है। साथ ही आपकी दिव्य उपस्थिति से हमारा मन हनुमान भक्ति में और भी समर्पित हो जाएगा।

Related posts

जंगल में पेड़ों की कटाई के लिए पहुंचे युवक को हाथी ने कुचलकर मार डाला, अन्य तीन ने भागकर बचाई जान

bbc_live

सीएम साय आज शाम कैबिनेट के कई मंत्रियों के साथ देखेंगे फिल्म ‘आर्टिकल 370

bbc_live

Mahtari Vandan Yojana : आज 70 लाख से अधिक महिलाओं के खातों में PM मोदी एक साथ ट्रांसफर करेंगे 1000 रुपए

bbc_live

Leave a Comment

error: Content is protected !!