6.5 C
New York
April 25, 2024
BBC LIVE
राज्य

Raipur Murder Case : ‘छोटे भाई के तानों से परेशान होकर पिस्टल से शूट किया’- आरोपी बड़ा भाई

रायपुर। राजधानी रायपुर में रविवार की आधी रात हुए गोली कांड में शामिल मुख्य आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। रिंगरोड नंबर 3 स्थित सैफायर ग्रीन फेस 2 निवासी पियूष झा ने रविवार रात अपने छोटे भाई पराग झा की गोली मारकर हत्या कर दी थी।  मृतक और आरोपी की मां के मुताबिक दोनों भाई उनसे अलग रहते थे और ऐव्योरॉन टेक्नोलोजी प्रा. लि. नाम से ड्रोन सप्लाई का बिजनेस करते थे और मैग्नेटो मॉल स्थित ऑफिस साथ जाते थे।

केयर टेकर ने बताया पूरा मामला

पुलिस द्वारा दर्ज एफआईआर के मुताबिक बीती रात लगभग 11.50 बजे पुलिस विधानसभा थाने में कॉल आया कि सफायर ग्रीन फेस /2 कॉलोनी के 440 नंबर के मकान में हत्या की घटना हुई है। पुलिस तत्काल मौके पर पंहुची। पता लगा कि पीयूष झा और पराग झा नाम के दो कामकाजी युवक किराये पर पिछले एक महीने से रहते आ रहे है। उनकी माँ कभी-कभी उस मकान में आती जाती है। घटना के बाद मौके पर उपस्थित युवकों की माँ शांता झा और उनके केयर टेकर मनोज साहू ने बताया कि, रात तकरीबन 10.30 बजे फोन करके बड़े लड़के पीयूष ने बताया कि उसने अपने छोटे भाई पराग को मार दिया है।

पहले तो उनको यह बात सही नहीं लगी क्योंकि पीयूष काफी शराब पीने लगा था। फिर पीयूष ने वीडियो कॉल के जरिये घटना स्थल,पराग के बेड रूम को दिखाया जहा खून से लथपथ पराग पड़ा हुआ दिखा। तब फ़ौरन शांता बाई झा व उनका केयर टेकर मनोज साहू अपने केपीटल  होम वाले मकान से मौके पर आये। उन्होंने देखा कि उनका छोटा लड़का पराग मृत अवस्था में खून से लतपथ अपने बैडरूम में बेड के नीचे पड़ा था, और बड़ा लड़का पीयूष फ्लैट में नहीं था। वह अपनी जीप गाड़ी को लेकर कही भाग गया था।

तब तुरंत थाना में फोन लगा कर घटना की सूचना दी। जिसके बाद पुलिस ने तुरंत पहुंच कर जांच शुरू कर दी। जांच की कड़ियों को जोड़ने फॉरेन्सिक टीम को मौके पर बुलाया गया। फिर फरार पीयूष की तलाश शुरू हुई। वह डी-डी नगर इलाके में अपनी थार जीप में मिला। उसने पूछताछ में बताया कि उसने एमटेक की पढ़ाई की है। वहीं उसका छोटे भाई ने एमबीए किया था। दोनों मिल कर ड्रोन कैमरा बिक्री सप्लाई करने का काम  करते थे। काफी सालों से उसका परिवार केपिटल होम सड्डू में किराये से रहता आया है लेकिन दो साल पहले पिताजी औऱ दादी का देहांत उसी मकान में रहते हो गया था। इसी वजह से उस मकान के अलावा सफायार ग्रीन फेस 2 में मकान किराये पर लिए थे। कुछ सामान को शिफ्ट किये थे बाकी सामान केपिटल हाउस वाले मकान में ही था।

बीती बात को लेकर शुरू हुआ झगड़ा मारपीट में बदल गया

रविवार रात करीब 10 बजे के आस-पास वह जब बड़ा भाई पियूष बाहर से लौटा तो छोटा भाई पराग घर पर ही था। दोनों के बीच पुरानी बातों को लेकर बहस शुरू हो गयी। छोटा भाई अपने बढे भाई को ताना दे रहा था। पियूष ने बताया बताया कि, उसने शराब पी रखी थी और शायद पराग ने भी शराब पीया था जिसकी वजह से दोनों में बहस बढ़ गई। पराग मुझे धक्का मारा फिर मारपीट होने लगी।

सगाई टूटने और व्यापार में घाटे से था तनाव

कुछ दिनों पहले मेरा सगाई टूटा था व काम में भी मंदी की वजह से मैं पहले ही तनाव से गुजर रहा था। गुस्से की वजह से मैंने कबर्ड में रखा देशी पिस्टल  निकाल कर पराग के ऊपर फायर कर दिया। पियूष ने बताया कि उसके बन्दूक से निकली गोली सीधे जाकर छोटे भाई के सिर में लगी औऱ वह वही गिर गया। पियूष ने बताया कि छोटे भाई पराग ने ही पिस्टल को एक साल पहले बिहार में कहीं से खरीद कर लाया था।

मैं हड़बड़ा गया पश्चाताप भी हुआ मैंने मम्मी को फोन लगाया औऱ बताया कि मैंने भाई को मार दिया है उसने मज़ाक समझा तब मैंने माँ को वीडिओ काल कर के दिखाया।माँ ने बोला तू वही रुकना मैं अभी पुलिस को लेकर आती हूँ।मैं डर गया औऱ पिस्टल गोली,पराग का दोनों फोन,आई कार्ड,अपना दोनों फोन आदि ले कर हड़बड़ी में अपनी जीप गाड़ी को लेकर भाग गया..! बाद में पुलिस ने रात में ही पकड़ पूछताछ करने थाना ले आई।

पुलिस ने तहकीकात के दौरान मौके से दो खाली खोके एक मेंगजीन, आरोपी पीयूष के कब्जे से एक जीप वाहन,एक देशी पिस्टल एक मैगजीन,17 जिन्दा कारतूस, मृतक पराग के दो फोन उसका आई कार्ड, आरोपी के दो  फोन आदि बरामद किये हैँ।आरोपी को धारा 302 में  गिरफ्तार कर आज ज्यूडीशियाल रिमांड पर भेज दिया है।

Related posts

छत्तीसगढ़ -इस नंबर से आये मैसेज, तो हो जायें अलर्ट…ट्रांसमिशन कंपनी के एमडी के नाम से साइबर ठगी की कोशिश

bbc_live

छत्तीसगढ़ पहुंचे केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह का मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय ने किया स्वागत

bbc_live

सीएम साय का बड़ा बयान : बहुत जल्द मिलेगा 500 रूपये में गैस सिलेंडर…जानें तारीख

bbc_live

Leave a Comment

error: Content is protected !!