14.2 C
New York
May 20, 2024
BBC LIVE
अपराधराज्य

फैक्टरियों में सुरक्षाकर्मियों को बंधक बनाकर लूट, डकैती व चोरी करने वाले गिरोह का भंडाफोड़

हरियाणा के कैथल में फैक्टरियों में सुरक्षाकर्मियों और चौकीदारों को बंधक बनाकर डकैती, चोरी और लूट की वारदात को अंजाम देने वाले गिरोह का पुलिस ने भंडाफोड़ किया है। मामले में आठ आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है।

इनकी पहचान जिला जींद के गांव कसूण निवासी सुरेंद्र, गौरव, दिलबाग, विकास उर्फ पिंडा और जींद के गांव सिंगपुरा निवासी हैप्पी, गांव गुरुसर निवासी रोहित, गांव सरडा निवासी सागर व श्याम नगर मोहल्ला जींद निवासी प्रीतम के रूप में हुई है।

आरोपियों के कब्जे से दो गाड़ी व वारदात में प्रयुक्त औजार भी बरामद किए गए हैं। पुलिस की पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि पहले फैक्टरियों में जाकर रेकी करते थे और फिर जानकारी हासिल करके वहां लूट की वारदात को अंजाम देते थे।

एसपी उपासना ने कार्यालय में प्रेस वार्ता कर मामले का खुलासा किया। उन्होंने बताया कि चीका निवासी अमित कुमार की ओर से पुलिस में शिकायत दर्ज कराई गई थी। इसमें बताया गया कि माजरी गांव में शिव कैलाश ग्रीन एनर्जी के नाम से उन्होंने फैक्ट्री लगा रखी है। 19 जनवरी की रात उन्हें फैक्ट्री में चोरी की सूचना मिली।

इसके बाद वह मौके पर पहुंचे तो कर्मचारी काफी घबराए हुए थे। कैलरम निवासी कर्मचारी नवीन कुमार ने बताया कि वे फैक्ट्री में सोए हुए थे तो रात करीब दो बजे चार लड़के कमरे के अंदर आए। आरोपियों ने अपना-अपना मुंह ढका हुआ था और हाथ में लाठी, ईंटे ली हुई थी। उन लोगों ने भय दिखाकर उसके हाथ पैर बांध दिए। साथ ही शोर मचाने पर जान से मारने की धमकी दी।

साथ ही उससे पूछा कि फैक्ट्री में कौन-कौन हैं व कितना कैश है। नवीन ने बताया कि कैश तो मालिक अपने साथ ले जाता है और अन्य वर्कर दूसरे कमरे में सो रहे हैं। उसके बाद उन लोगों ने दूसरे कमरे में सो रहे रोशन कुमार और भोला को भी बांध दिया। उक्त सभी आरोपी फैक्ट्री के ट्रांसफार्मर का सामान व कैमरे की डीवीआर चोरी करके ले गए।

शिकायत के बाद इस संबंध में थाना गुहला में मामला दर्ज किया गया। एसपी ने बताया कि उक्त गिरोह को काबू करने के लिए जांच सीआईए-1 को सौंपी गई थी। सीआईए-1 प्रभारी इंस्पेक्टर अमित कुमार की अगुवाई में एएसआई मुकेश कुमार की टीम ने शुक्रवार की रात चंदाना रोड से आठ आरोपियों को काबू किया है। पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि जल्द दौलत कमाने के लिए वे चोरी की वारदात को अंजाम देते थे और लूट का माल बेचकर रकम आपस में बांट लेते थे।

Related posts

इलाके में फैली सनसनी : सड़क किनारे नाले में मिली युवक की लाश

bbc_live

छत्तीसगढ़ के मरवाही वन मण्डल के साल्हेकोटा में फर्जी समिति बनाकर लगभग 1 करोड़ के घोटाले को अंजाम देने वाले एसडीओ के ऊपर छत्तीसगढ़ शासन मेहरबान क्यो?

bbcliveadmin

महादेव सट्टा एप्प में फंसे कारोबारी ने की आत्महत्या, जहर पीकर दी जान

bbc_live

Leave a Comment

error: Content is protected !!