BBC LIVE
राष्ट्रीय

अंबिकापुर में मोदी की गारंटी पर खड़गे ने बोला हमला, कहा- हमें हमारी जमीन दे दो, आसमान लेकर क्या करेंगे

रायपुर। छत्तीसगढ़ के अंबिकापुर पहुंची राहुल गाँधी की भारत जोड़ो न्‍याय यात्रा में कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे शामिल हुए। यात्रा में शामिल हुए खड़गे ने केंद्र सरकार पर जमकर हमला बोला। उन्होंने केंद्र की मोदी सरकार पर तोड़-फोड़ की पॉलिटिक्‍स करने, झूठ बोलने, हसदेव में जंगलों की कटाई समेत कई मुद्दों पर घेरा। मल्लिकार्जुन खरगे ने विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि, मैं यहां पर भारत जोड़ो न्‍याय यात्रा में राहुल के साथ मिलकर ये देखने आया हूं, कि किस ढंग से हर राज्‍य में भारत जोड़ो न्‍याय यात्रा को एक रेस्‍पॉन्‍स मिल रहा है।

खड़गे ने आगे कहा, भाईयो, राहुल की यात्रा न्‍याय के पांच लक्ष्‍यों पर केन्‍द्रित है। एक है युवा न्‍याय, दूसरा किसान न्‍याय, तीसरा नारी न्‍याय, चौथा श्रमिक न्‍याय, पांचवा भागीदारी न्‍याय। इसके लिए वो सारे देश में आज पैदल चल रहे हैं, लोगों से मिल रहे हैं। दूसरी बात ये कैसा आज मोदी बहुत हर जगह तोड़-फोड़ की पॉलिटिक्‍स कर रहे हैं। जब हम कर्नाटक में राहुल गांधी जी के कहने पर गारंटी अनाउंस किए, वहां पर पांच गारंटी के साथ हमारी सरकार आई। दूसरा तेलंगाना में भी फिर राहुल गांधी जी ने कहा, यहां पर भी हमको यही करना है, तब वहां पर भी हमने छह गारंटी देकर वो कामयाब बनाए और तेलंगाना में भी हमारी सरकार आई। लेकिन अब मोदी गांरटी बोल रहे हैं, हमारी देखकर हर जगह गारंटी-गारंटी बोल रहे हैं और अब न्‍यूज पेपर निकालकर, पहले पन्‍ने पर अगर देखेंगे तो वो गारंटी लिखते हैं। किसकी गारंटी-मोदी की गारंटी।

उन्होंने आगे कहा, अरे एक व्‍यक्ति को इतना अहंकार है, तो आप सोचिए ये लोकतंत्र में विश्‍वास करता है-नहीं। सिर्फ अपने लिए काम करता है और अपने लिए जो व्‍यक्ति काम करता है वो तानाशाही होता है, वो हिटलर जैसा होता है। ये लोकतंत्र में, डेमोक्रेसी में विश्‍वास रखने वाला व्‍यक्ति नहीं होता है और इन्‍होंने गारंटी दी थी। पहले दो-दो करोड़ नौकरियां देने की, दो करोड़ नौकरियों की गारंटी बोले, कहां है वो गारंटी। अरे वो ही गारंटी आपने पूरी नहीं की, अब नई गारंटी बोल रहे हो। अब दूसरा मोदी जी और भी बोले कि किसानों को दोगुनी आमदनी करके दूंगा,तीसरा 15-15 लाख रुपए, सभी इन वायदों को उन्‍होंने कहा कि हर एक की जेब में 15-15 लाख बाहर का काला धन लाऊंगा, कांग्रेस वाले वहां रखे थे, वो मैं लाकर दूंगा बोला। लेकिन अभी तक उन्होंने एक भी वादा पूरा नहीं किया है।

खड़गे ने मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा, भाईयो, जो आदमी 2014 में झूठ बोला, 2019 में झूठ बोला, ऐसा आदमी फिर बार-बार गारंटी बोल रहा है। इसकी गारंटी पर भरोसा मत करो, ये लोगों को खत्‍म करने के लिए और सबको एक दिशा-भूल करने के लिए ये काम कर रहा है। तो मोदी ये झूठों के सरदार हैं मैं पहले से बोलता हूं, मेरी बात कोई सुनते नहीं थे। मैं जब छत्तीसगढ़ में चुनाव प्रचार के लिए आया था, मैंने बोला था ये मोदी के जितने भी वायदे हैं, ये सब बोगस हैं, इसमें कोई तथ्‍य नहीं, सत्‍य नहीं। इसीलिए इस पर भरोसा मत करो, हमने कहा, लेकिन फिर भी चंद लोग उन पर भरोसा करे। आज क्‍या हो गया- वो कुछ नहीं हुआ, फिर लोग आज तकलीफ में हैं। इसीलिए मैं एक बात आपके सामने कहना चाहता हूं- मोदी जी के चहेते लोगों को भी कहूंगा और सभी जनता से भी ये कहूंगा- झूठे वायदों की बस्तियां लेकर हम क्‍या करेंगे, हमें हमारी जमीन दे दो, हम आसमां लेकर क्‍या करेंगे।

अरे हमारी जमीन, जंगल वापस करो, बस यही है। तुम आसमान दिखाते हो, चंद्रयान दिखाते हो, वो लेकर हम क्‍या करेंगे? उससे पेट भरता है? तो ये मोदी करने वाला है, ये मोदी आपको कहने वाला है, बार-बार फिर यहां आने वाला है, यही बात करेगा, तो उसको बोलो- भाई, तुम्‍हारा आकाश लेकर क्‍या करेंगे, हमारी जमीन हमको वापस करो, हमारे जंगल हमको वापस करो, बस यही हम चाहते हैं।

दूसरी बात, सत्ता में भाजपा आने के बाद पहला कदम उन्‍होंने उठाया- हसदेव के जंगलों में 15,000 पेड़ काटने की परमिशन देना, 15,000। कल ही राहुल जी हसदेव बचाओ आंदोलन का के लोगों से मिले और उनके आन्‍दोलन को कांग्रेस पार्टी का समर्थन दिया और हम ये चाहते हैं कि ये जो हमारे लोग हमेशा काम करते हैं, जो पार्लियामेंट में करते हैं, अपनी असेंबली में करते हैं, ऐसे हमारे 30 विधायकों को ये चर्चा करने के लिए भी उन्‍होंने वो डिमांड को स्‍वीकार नहीं किया। उनको सस्‍पेंड किया, जो लोग आवाज उठाते हैं अन्‍याय के खिलाफ, उनको सस्‍पेंड किया गया, आपके लोगों को। तो ये कैसी जम्हूरियत है।

पीएम झूठ पर झूठ बोलते है- खड़गे

खड़गे ने कहा, अब बैकवर्ड की याद नहीं आती, जब अडानी को आप एअरपोर्ट दे रहे, पोर्ट दे रहे, रोड्स, माइन्‍स, ये सब दे रहे उस वक्‍त बैकवर्ड क्‍लास के लोग कहां गए, उनकी याद है आपको। स्‍कॉलरशिप नहीं मिल रहा उनके बच्‍चों को, याद है आपको। गरीबों को खाना नहीं मिलता था, इसीलिए सोनिया गांधी जी ने फूड सिक्‍योरिटी एक्‍ट लाकर लोगों का पेट भरने का काम किया, तो मोदी बोले मैं 80 करोड़ लोगों को फ्री अनाज दे रहा हूं। कहां से दे रहे हो भाई- हम कानून बनाए, हम पहले देते थे, उसमें दो रुपए जोड़कर मैं फ्री खाना दे रहा हूं। ऐसी, यानी झूठ पर झूठ बोलते हैं और बोलकर लोगों को और दूसरा क्‍या है उनका हमेशा कांग्रेस को गालियां देना, एक ही एजेंडा है- कहीं भी जाओ, कोई रेफ्रेंस नहीं, कोई वास्‍ता नहीं, राहुल जी को गालियां देते हैं, सोनिया जी को गालियां देते हैं- परंपरागत जो घराने के लोग हैं, वो इस देश को लूट रहे हैं, वो इस देश पर राज कर रहे हैं।

गांधी फैमिली से राजीव गांधी ही आखिरी प्रधानमंत्री- कांग्रेस अध्यक्ष

कौन राज कर रहा है?  अरे, 1989 में गांधी फैमिली से, गांधी घराने से राजीव गांधी ही आखिरी प्रधानमंत्री थे और आप बताओ आज तक किसी को बनाया है प्रधानमंत्री उनके घर से, कोई मंत्री बना है। फिर भी लोगों को भड़काते हो। ये है मोदी का खेल और वो खेल खेल रहा है। भाईयो उसके झांसे में मत आओ, ये मेरी आपको विनती है, नहीं तो देश बर्बाद होगा, डेमोक्रेसी बर्बाद होगी, संविधान खत्‍म होगा और एक किसानों के लिए बहुत बातें करते थे। ट्रैक्‍टर पर टैक्‍स, उसके बाद फर्टिलाइजर पर, जीएसटी भी लगाया, सब चीजें, मोदी जी एक-एक करके किसानों पर टैक्‍सेस लगाते गए और हमदर्दी से बात करते हैं कि किसानों के लिए मैं बहुत कुछ कर रहा हूं। पीएम किसान योजना, अरे भाई फर्टिलाइजर का दाम कम करो, ट्रैक्‍टर के ऊपर का टैक्‍स निकालो, ये छोड़ो, ये सब वो करते नहीं।

किसानों के रास्ते में बिछाई कीलें- खड़गे

आज वहां पर जो किसान लड़ रहे हैं बॉर्डर पर, वहां पर उन्‍होंने कांटे बिछाए हैं और बड़े-बड़े, जो आप रोड पर ये हम डालते हैं, वैसे बड़े सीमेंट के बैरिकेड डालकर, उसके ऊपर दीवार खड़ी की है और उसके ऊपर कीलें लगा दी हैं। ये है डेमोक्रेसी।

अरे मैं जब मेरा हक पूछने के लिए प्राईम मिनिस्‍टर के खिलाफ, सरकार के खिलाफ अगर लड़ता हूं तो मेरे सामने कांटे बिछाते हो, दीवार खड़ी करते हो, मेरे को लाठीचार्ज करते हो, ये कौन सी डेमोक्रेसी है। मोदी जी मुझे बोलो, लेकिन वो नहीं चाहते किसानों की भलाई हो और वो सिर्फ यही चाहते हैं कि इन्हें ऐसे ही लड़ते रहने दो। एमएसपी हम पूछे, तीन काले कानून थे, उसके खिलाफ भी हम लड़े, राहुल जी लड़े, आप सब लड़े, वहां पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश के लोग बॉर्डर पर बैठे हैं वो लड़ रहे हैं, लेकिन एमएसपी बढ़ाने की बात नहीं हुई और एमएसपी गारंटी देने की भी बात नहीं हुई।

बीजेपी ने देश पर कर्ज का बोझ बढ़ाया- खड़गे

इस देश पर कर्जा कितना उन्‍होंने बनाया है, आपको इसको मैं बोलूंगा। 2014 में इस देश में, यूपीए जब सरकार थी 55 लाख करोड़ रुपए कर्जा था। आज मोदी जी के अच्‍छे दिन में 185 लाख करोड़ कर्जा है, तीन गुना हो गया, 10 साल में उन्‍होंने तीन गुना कर्जा कर दिया और ये अच्‍छी सरकार, सबको सुख और समृद्धि से रखने वाली सरकार, ये उन्‍होंने कहा, लेकिन देखो हर एक व्‍यक्ति के ऊपर 1,60,000 रुपए का कर्जा है। यहां जितने भी बैठे हैं तुम्‍हारे सिर पर 1,60,000 रुपए का कर्जा है और देश के ऊपर 185 लाख करोड़ है। ये है मोदी का जो है काम करने का तरीका और गरीबों की तरफ तो देखते नहीं।

आदिवासी और दलित समुदाय के लोगों पर बढे अत्‍याचार- मल्लिकार्जुन खड़गे

30 लाख नौकर‍ियां हैं, भर्ती नहीं करते और दो घंटे में, हर दो घंटे में पांच आदिवासी और दलित समुदाय के लोगों के ऊपर अत्‍याचार होता है। ये रोको, लेकिन वो रोकने का नाम नहीं लेते हैं। बोलते हैं कि हम प्रेसिडेंट ऑफ इंडिया आदिवासी को बनाए। ठीक है भाई आदिवासी को बनाया, हम स्‍वागत करते हैं, लेकिन उनके लोगों को मार रहे, कुचल रहे, उनके मुंह में पेशाब करा रहे, ये क्‍यों नहीं बोलते आप, इसको क्‍यों नहीं रोकते आप। हमारी मां-बहनो की इज्‍जत लूट रहे, क्‍यों नहीं रोकते आप। सिर्फ भाषण करने से, नाटक में अच्‍छे डायलॉग बोलते हैं न, वैसा बोलने से देश का और समाज का उद्धार नहीं होता। समाज का उद्धार अगर होना है, वो पंडित जवाहरलाल नेहरू जी के मार्ग पर चलना होगा, बाबा साहेब आंबेडकर के संविधान के ऊपर चलना होगा, उसी वक्‍त इस देश की भलाई होती है।

एक हमारे वन अधिकार जो थे, उसके लिए तो हम डटकर मुकाबला करें। उसके बावजूद भी मेरे को कभी-कभी गुस्‍सा भी आता है। भाई जिनके लिए हम काम कर रहे हैं, चाहे वो ओबीसी हो, चाहे एससी-एसटी हो, चाहे गरीब तबके के हो, चाहे छोटे-मोटे व्‍यापारी हो, उनके लिए हम काम करते हैं, लेकिन मुझे समझ में नहीं आता, फिर भी चंद लोग मोदी-मोदी बोलते हैं। अरे मोदी तो तुमको मार डालना चाहता है, तुम्‍हारे वोट को खरीदना चाहता है, तुम्‍हारे वोट का अधिकार छीनता, ऐसे आदमी को याद करते हो। इस देश के संविधान में सबको वोटिंग का अधिकार मिला है, वो संविधान की वजह से मिला है, आप ये याद रखो। अगर ये भूलेंगे, तो डेमोक्रेसी खत्‍म हो जाएगी, अगर ये भूलेंगे तो इस देश में संविधान भी खत्‍म होगा और आप भी खत्‍म हो जाएंगे और एक एससी-एसटी बच्‍चों को जो स्‍कॉलरशिप मिलती थी, वो भी इन्‍होंने खत्‍म किया है। इस ढंग से मोदी जी और उनकी सरकार चल रही है और हमेशा या तो ओबीसी के नाम पर वोट मांगते हैं या तो धर्म के नाम से मांगते हैं, कभी भगवान के नाम से मांगते हैं, मांगो।

Related posts

Daily Horoscope : कर्क और सिंह समेत इन 6 राशि वालों को आज के दिन होगा लाभ ही लाभ

bbc_live

54 के बदले अब लोगों को देना होगा ₹55…सुधा का दूध हुआ महंगा

bbc_live

अब अंतरिक्ष में बजेगा भारत का डंका, सरकार ने 100 प्रतिशत विदेशी निवेश को दी मंजूरी

bbc_live

Leave a Comment

error: Content is protected !!