6.5 C
New York
April 25, 2024
BBC LIVE
राज्य

रायपुर पुलिस ने 601 लोगों के चेहरों पर लाई मुस्कान, लौटाया सभी का गुमा हुआ मोबाइल, की ये अपील

रायपुर। राजधानी में पुलिस ने 601 लोगों के गुम मोबाइल फोन उन्हें वापस लौटाए। किसी का फोन गुम हो गया था तो किसी की जेब से चुरा लिया गया था। पिछले कुछ महीनों में गुम और चोरी हुए इन मोबाइल फोन के मालिकों गुरुवार को पुलिस ने सिविल लाइंस थाने बुलाया और मोबाइल फोन वापस लौटाए गए।

रायपुर एसएसपी संतोष सिंह ने लोगो को अपने हाथों से लोगो को मोबाइल वापस किए है। बरामद किये गये कुल 601 नग कंपनियों के मोबाइल फोन की कीमत लगभग 1 करोड़ 25 लाख रूपये बताई जा रही है।

एसएसपी ने बताया कि मोबाइल गुमने की घटनाओं की शिकायत पुलिस को मिली थी। इसके बाद सायबर सेल की टीम लगातार मोबाइल सर्चिंग के लिए ऑपरेशन चला रही थी। अब तक की सबसे बड़ी रिकवरी मोबाइल की बरामद हुई है। इससे पहले हमने कई बार मोबाइल ढूंढ कर लोगों को लौटाए हैं । लेकिन इतनी बड़ी मात्रा में आज पहली बार मोबाइल रिकवर हुआ है। मोबाईल के मालिकों को वापस लौटाया जा रहा है । जिसकी कीमत लगभग एक करोड़ 25 लाख से है । इस मोबाइल को ढूंढने में विशेष रूप से साइबर और क्राइम की मेहनत रही है।

चोरी हुए मोबाईल पर होगी कार्रवाई

पुलिस ने बताया कि चोरी और गुम हुए फोन की जानकारी मिलने पर पुलिस मोबाईल चलाने वाले लोगो के कांटेक्ट करती और उन्हें साइबर सेल रायपुर में फोन जमा करने के लिए कहा जाता था । लेकिन वे लोग मोबाइल फोन जमा नही करते और फोन बंद कर देते थे। ऐसे में अन्य राज्यों की पुलिस से कांटेक्ट करके मोबाइल बरामद करवाया गया और मोबाइल कोरियर करके मंगवाया गया। वही मोबाइल चोरी के मामलों में मोबाइल रिकवर कर मोबाइल चोरी करने वाले लोगों के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है।

दूसरे राज्यों से भी मोबाईल रिकवर किया गया

रायपुर पुलिस ने अन्य राज्यों की पुलिस के साथ समन्वय स्थापित कर मोबाईल फोन बरामद किया गया है। जिसमें से उड़ीसा, महाराष्ट्र, पश्चिम बंगाल, झारखण्ड तथा बिहार से मोबाईल फोन बरामद किया गया। पहली बार इतनी बड़ी संख्या में अनुमानित 01 करोड़ 25 लाख रूपये कीमती मोबाईल फोन बरामद कर रायपुर पुलिस ने मोबइल के मालिकों फोन लौटाया है। जिस

पुलिस ने की अपील

रायपुर पुलिस ने जनता से अपील की है कि मोबाईल फोन गुम या चोरी होने की स्थिति में वे www.ceir.gov.in पोर्टल में गुम होने के संबंध में जानकारी भेजे और अपने नजदीकी थाना या सायबर सेल से संपर्क करें, जिससे मोबाईल फोन का किसी भी अपराध में उपयोग ना हो सके। अपने मोबाईल फोन को हमेशा पासवर्ड प्रोटेक्टेड रखें।

Related posts

कांग्रेस का बड़ा बुरा हाल है, कोई लड़ने को तैयार नहीं : सीएम विष्णुदेव साय

bbc_live

छत्तीसगढ़ में कल नहीं खुलेगी शराब की दुकानें

bbc_live

छत्तीसगढ़ के किसानों को एकमुश्त दी जाएगी धान खरीदी की अंतर की राशि, सरकार ला रही कृषक उन्नति योजना

bbc_live

Leave a Comment

error: Content is protected !!