BBC LIVE
राष्ट्रीय

Aaj Ka Panchang: रविवार को कौन सा मुहूर्त होगा शुभ तो कौन सा अशुभ, आज के पंचांग से जानें डिटेल्स

Aaj Ka Panchang: आज 7 जुलाई का दिन रविवार है और तिथि द्वितीया है, जो सूर्योदय के बाद 29 जुलाई, 2024 की सुबह 5:29 बजे तक मान्य रहेगी.  इसके बाद तृतीया तिथि आरंभ हो जाएगी. आज का नक्षत्र पुष्य है, जो ज्योतिष शास्त्र में अत्यंत शुभ माना जाता है.  पुष्य नक्षत्र को “कर्मफल दाता” भी कहा जाता है.

इस नक्षत्र का स्वामी ग्रह शनि है और ज्योतिष के अनुसार यह सौभाग्य, समृद्धि और धन लाभ का कारक माना जाता है.  आज चंद्रोदय रात के समय होगा और चंद्रास्त अगले दिन होगा, जिसका विवरण दैनिक पंचांग में अगले दिन दिया जाएगा.

कैसा रहेगा आज का पंचांग

तिथि: द्वितीया (29 जुलाई, सुबह 5:29 बजे तक)

आज द्वितीया तिथि है. हिन्दू धर्म में शुक्ल पक्ष की द्वितीया तिथि को विशेष महत्व दिया जाता है. इस तिथि में किए गए शुभ कार्यों के शुभ फल प्राप्त होते हैं.

नक्षत्र: पुष्य (पूर्ण रात्रि तक)

आज पुष्य नक्षत्र का प्रभाव रहेगा. ज्योतिष शास्त्र में पुष्य नक्षत्र को अति शुभ माना जाता है. यह नक्षत्र विशेष रूप से धन, समृद्धि और वैवाहिक जीवन के लिए शुभ माना जाता है. पुष्य नक्षत्र के दौरान किए गए कार्यों, जैसे कि विवाह, गृह प्रवेश, संपत्ति या वाहन खरीदना या यात्रा आरंभ करना, आदि मंगलकारी होते हैं और शुभ फल देते हैं.

ग्रहों की स्थिति: आज सूर्योदय का समय सुबह 5:29 बजे और सूर्यास्त का समय शाम 7:12 बजे है. चन्द्रोदय आज रात को होगा, वहीं चन्द्रास्त कल होगा, जिसका समय पंचांग में दर्शाया नहीं गया है. ग्रहों की स्थिति आज आपके लिए सामान्य रूप से फलदायी रहेगी.

शुभ मुहूर्त: आज का दिन शुभ कार्यों के लिए उत्तम है, खासकर पुष्य नक्षत्र का प्रभाव होने के कारण. यदि आप कोई शुभ कार्य करने का विचार कर रहे हैं, तो अभिजीत मुहूर्त का समय सबसे उत्तम रहेगा. अभिजीत मुहूर्त आज सुबह 11:58 बजे से दोपहर 12:53 बजे तक रहेगा.

अशुभ समय: हालांकि आज का दिन शुभ कार्यों के लिए अच्छा है, लेकिन राहु काल में कोई भी शुभ कार्य करने से बचना चाहिए. राहु काल आज शाम 5:31 बजे से शुरू होकर शाम 6:26 बजे तक रहेगा. इस दौरान किए गए कार्य अशुभ फल दे सकते हैं.

दिशा शूल: आज दिशा शूल पश्चिम दिशा में है. यदि आपको यात्रा करनी ही पड़े और यात्रा का मार्ग पश्चिम दिशा की ओर जाता है, तो दक्षिण दिशा का चुनाव करना आपके लिए लाभदायक रहेगा. दिशा शूल के आधार पर दिशा चयन करने से यात्रा सुखद और मंगलकारी होती है.

Related posts

अंगारकी गणेश चतुर्थी व्रत से लेकर परशुराम अष्टमी व्रत तक, जानें इस हफ्ते के प्रमुख व्रत त्योहार के बारे में

bbc_live

ऐतिहासिक होगा विधानसभा का घेरावः पीसीसी चीफ

bbc_live

Phone Privacy Tricks: WhatsApp पर दूसरों के स्टेटस देखना बेहद आसान, नहीं चलेगा किसी को पता

bbc_live

Leave a Comment

error: Content is protected !!