BBC LIVE
राज्य

एलइडी स्ट्रीट लाइट के टेंडर को निरस्त कर 24 लाख की रिकवरी करते हुए नई निविदा निकालने की विपक्षी पार्षदों ने की मांग, भाजपा प्रदेश महामंत्री रामू रोहरा ने लिया संज्ञान

रिपोर्टर पवन साहू

कांग्रेस शासन काल के आटे में नमक वाली नीति अब स्वीकार नहीं किया जावेगा नरेंद्र रोहरा
नगरहित को सर्वोपरि मानते हुए, लगाया जावे नये एल.ई.स्ट्रीट लाईट राजेंद्र शर्मा

जनहित के मुद्दों पर हमारे सब्र की परीक्षा ना ले निगम के जिम्मेदार लोग विजय मोटवानी

 

धमतरी शहर के पहले 22 वालों फिर तीन वार्डों में और एलइडी स्ट्रीट लाइट लगाने हेतु लगभग 39 लाख रुपए का ठेका मई महीने में हुआ था जिसकी कार्य अवधि 1 महीने थी लेकिन अनुबंध कंपनी द्वारा नियत समय में कार्य को तो पूरा नहीं किया गया बल्कि निविदा की शर्तों का घोर उल्लंघन करते हुए 230 खांबो में लगाए गए आधे से अधिक स्ट्रीट लाइट खराब हो जाने के बावजूद अनुबंध ठेका कंपनी को 24 लख रुपए का भुगतान कर दिया गया, इसके बाद से इस निविदा पर ही प्रश्न चिन्ह उठने लगा है कहा तो यहां तक जा रहा है कि लोकल कंपनी के लाइटों पर ब्रांड लगाकर सप्लाई किया गया है, इन सभी तथ्यों से धमतरी शहररहित एवं जनभावनाओं को ध्यान में रखते हुए भारतीय जनता पार्टी के नवनियुक्त महामंत्री रामू रोहरा ने तुरंत पूरे प्रकरण का सूक्ष्मता से संज्ञान मे लिया है। इस संबंध में नेता प्रतिपक्ष नरेंद्र रोहरा के नेतृत्व में भाजपा के पार्षद गणों पूर्व सभापति राजेंद्र शर्मा धनीराम सोनकर, बिशन निषाद ,दीपक गजेंद्र, श्यामलाल नेताम  प्रकाश सिन्हा हेमंत बंजारे अज्जू   देशलहरे, मिथिलेश सिन्हा ,ईश्वर सोनकर , प्राची सोनी ,सरिता आसाई ,सुशीला तिवारी ,रश्मि दिवेदी ,नीलू डागा,रितेश नेताम, द्वारा कमिश्नर विनय पोयम से इस गंभीर विषय पर निरंतर ध्यान आकर्षित कराया गया लेकिन अभी तक कोई निष्कर्ष नहीं निकला है बल्कि यहां तक की पार्षदों ने 24 लाख रुपए की भुगतान की रिकवरी करते हुए नया लाइट लगाने हेतु संबंधित कंपनी को निर्देशित करने की मांग की थी। परंतु निगम के जिम्मेदार लोगों द्वारा नोटिस देकर अपने कर्तव्य का इतिश्री कर लिया गया जो इस प्रक्रिया पर ही संदेह उत्पन्न करता है, नगर निगम के पूर्व सभापति राजेंद्र शर्मा द्वारा निरंतर शहर के इस बुनियादी जनहित की सुविधाओं पर निगम के जिम्मेदार अधिकारी कर्मचारी सहित अन्य लोगों का ध्यान आकर्षित कर रहे हैं लेकिन अभी तक समुचित न्याय आम जनता तथा वार्डों में जैन आक्रोश का सामना कर रहे पार्षदों को कोई संतुष्टि नहीं मिली बल्कि दूसरी बार लगाए गए लाइट ही दो दिन के अंदर में फिर खराब होकर अंधेरे में परिवर्तित हो जा रहे हैं ऐसे में राजेंद्र शर्मा द्वारा कहा गया है कि नगर निगम धमतरी की आम जनता की हित के साथ न्याय करते हुए एलइडी स्ट्रीट लाइटों को बदलकर गुणवत्ता से युक्त अच्छी लाइटें समुचित तथा पर्याप्त रोशनी हेतु लगाया जाय ।यही आम जनता के साथ न्याय होगा वहीं नेता प्रतिपक्ष नरेंद्र रोहरा ने कहा है कि नगर निगम में कांग्रेस शासित 4 वर्ष का कार्यकाल में हो रहे प्रत्येक कार्यों में नमक में आटा जैसे कहावत चरितार्थ करती है जो स्वीकार योग्य नहीं है अब ऐसा ढर्रा नहीं चलेगा, वहीं दूसरी और युवा तेजतर्रार पार्षद विजय मोटवानी ने रोष व्यक्त करते हुए कहा है कि हम जनप्रतिनिधि निरंतर बुनियादी सुविधाओं की पूर्ति के लिए नगर निगम के जिम्मेदार लोगों का ध्यान आकर्षित कर रहे हैं वह अब हमारे सब्र की परीक्षा न ले ,उन्होंने आगे बताया कि इस पूरे प्रकरण की जानकारी नगरीय प्रशासन मंत्री सहित विभागीय सचिव व डायरेक्टर को अतिशीघ्र प्रदान की जाएगी।

Related posts

नरेंद्र शुक्ला और आलोक चंद्रवंशी बनाए गए राज्य सूचना आयुक्त

bbc_live

डोंगरगढ़ : मां बम्लेश्वरी मंदिर के एलईडी टीवी में चला अश्लील वीडियो…जानिए फिर क्या हुआ

bbc_live

बस्तर में मतदान कल : मतदान दिवस और मतदान के एक दिन पूर्व प्रिंट मीडिया में प्रकाशित होने वाले राजनीतिक विज्ञापनों का कराना होगा पूर्व प्रमाणीकरण

bbc_live

Leave a Comment

error: Content is protected !!